Connect with us

Hi, what are you looking for?

English

News

यूपी में धान खरीद का 48 घंटे में होगा भुगतान, सीएम योगी के सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश में सरकारी केंद्र पर धान खरीद के 48 घंटे के अंदर किसानों को भुगतान किया जाएगा। इस संबंध में सरकार ने संबंधित विभाग को निर्देश जारी कर दिए हैं। वर्तमान में प्रदेश में 5,204 क्रय केंद्र संचालित हैं, जिन पर लगभग एक लाख मीट्रिक टन से अधिक दैनिक धान की खरीद हो रही है। सरकार का दावा है कि अब तक धान की खरीद को लेकर 5,253 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान किया जा चुका है। सरकार ने यह भी कहा कि जब तक सभी इच्छुक किसानों की धान खरीद पूरी नहीं होगी, तब सरकारी खरीद जारी रहेगी।

मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता के अनुसार, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में खाद्यान्न खरीद और वितरण व्यवस्था की समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इसके तहत अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि सरकारी केंद्र पर धान खरीद के 48 घंटे के अंदर किसानों को हर हाल में भुगतान कराया जाए। इसके अलावा राज्य सरकार ने किसानों के हित में तय किया है कि जब तक एक भी किसान का धान क्रय शेष रहेगा, क्रय केंद्र चलते रहेंगे। जहां तक भुगतान की बात है तो हर हाल में खरीद के 48 घंटे के भीतर किसान को भुगतान सुनिश्चित कराई जाएगी।

अब तक 4 लाख से ज्यादा किसानों से खरीद

प्रदेश में इस सत्र में अब तक 4,21,557 किसानों से 28.17 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद कर 5,253 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान किया जा चुका है। वर्तमान में प्रदेश में 5,204 क्रय केंद्र संचालित हैं, जिन पर लगभग एक लाख मीट्रिक टन से अधिक दैनिक धान की खरीद हो रही है। इसके अलावा सरकार का कहना है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर श्रीअन्न (मोटे अनाज) के तहत अब तक 55 हजार से अधिक किसानों से 2.92 लाख मीट्रिक टन बाजरा खरीदा गया है। और इसके लिए 646 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान किया गया है। इसी तरह 891 किसानों से 4,382 मीट्रिक टन मक्का, 2,344 किसानों से 11,462 मीट्रिक टन ज्वार की खरीद कर न्यूनतम समर्थन मूल्य के अनुरूप भुगतान किया गया है।

संबंधित पोस्ट

समाचार

उत्तर प्रदेश में खेती के लिए नलकूप कनेक्शन लेने वाले किसानों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश सरकार इन किसानों को मुफ्त में बिजली...

कृषि

दूध उत्पादन में उत्तर प्रदेश के किसानों ने कमाल कर दिया है। प्रदेश 15 फीसदी से ज्यादा की हिस्सेदारी के साथ सबसे ज्यादा दूध...

नीति

मजबूती शुगर लॉबी के दबाव के चलते आखिरकार केंद्र सरकार को अपने एक सप्ताह पुराने फैसले से यू-टर्न लेना पड़ा। देश के चीनी उत्पादन...

संघर्ष

छुट्टा जानवर किसानों के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में 15 दिनों के भीतर आवारा जानवारों के...