Connect with us

Hi, what are you looking for?

English

News

मिलेट्स स्टोर और बीज उत्पादन के लिए यूपी में मिलेगी सब्सिडी, जल्द करें आवेदन

किसानों के लिए मिलेट्स बीज उत्पादन और मिलेट्स से जुड़ा बिजनेस करने का अच्छा मौका है। उत्तर प्रदेश सरकार मोटे अनाज के बीज उत्पादन के लिए सरकार 4 लाख रु, मिलेट्स प्रोसेसिंग, पैकिंग और मार्केटिंग सेंटर तैयार करने के लिए अधिकतम 47.50 लाख रु और मिलेट मोबाइल आउटलेट और मिलेट स्टोर खोलने के लिए 20 लाख रु तक की सब्सिडी दे रही है। राज्य सरकार मिलेट पुनरुद्धार कार्यक्रम को कृषि विभाग के जरिए चला रही है। योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 16 दिसंबर है। वहीं जनपदीय उप कृषि निदेशक कार्यालय में दस्तावेज सबमिट करने की लास्ट डेट 25 दिसंबर है।

कौन ले सकता है सब्सिडी

मिलेट्स पुनरुद्धार कार्यक्रम का फायदा किसान, एफपीओ, स्वयं सहायता समूहों और कारोबारी ले सकते हैं। सरकार कैटेगरी के आधार पर सब्सिडी दे रही है। जो इस प्रकार है..

मिलेट्स बीज उत्पादन : इसके लिए कृषक उत्पादक संगठन (एफपीओ) आवेदन कर सकते हैं। उन्हें सीडमनी के रूप में 4 लाख रुपये मिलेंगे। उन्हीं एफपीओ को चुना जाएगा, जिन्होंने खरीफ-2023 में मिलेट्स का बीज का प्रोडक्शन किया हो और 100 क्विंटल मिलेट बीजों का स्टोरेज है।

मोबाइल आउटलेट और मिलेट स्टोर : किसान, एफपीओ, स्वयं सहायता समूह और कारोबारी आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए 10 से 20 लाख रु तक की सब्सिडी मिल जाएगी। लेकिन गाड़ी और दुकान होना जरूरी है। इसके अलावा बैंक खाते में 10 लाख रु होने चाहिए।

मिलेट्स प्रोसेसिंग, पैकेजिंग और मार्केटिंग सेंटर : एफपीओ और उद्यमी आवेदन कर सकेंगे, जिन्हें प्रोजेक्ट कॉस्ट का 50 फीसदी या ज्यादा से ज्यादा 47.50 लाख रु मिलेंगे। मगर एफपीओ भी 1 करोड़ रु के टर्नओवर के साथ 3 साल पुराना होना जरूरी है।

ऐसे करें आवेदन

ऑनलाइन लिंक के लिए https://agriculture.up.gov.in/ पर क्लिक करें। रजिस्ट्रेशन होने के बाद, रजिस्ट्रेशन का प्रिंट लें और जरूरी दस्तावेजों की चेकलिस्ट भी फिर उस प्रिंट को बाकी जरूरी दस्तावेजों के साथ जनपदीय उप कृषि निदेशक कार्यालय में जमा करें।

संबंधित पोस्ट

समाचार

उत्तर प्रदेश में खेती के लिए नलकूप कनेक्शन लेने वाले किसानों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश सरकार इन किसानों को मुफ्त में बिजली...

कृषि

दूध उत्पादन में उत्तर प्रदेश के किसानों ने कमाल कर दिया है। प्रदेश 15 फीसदी से ज्यादा की हिस्सेदारी के साथ सबसे ज्यादा दूध...

नीति

मजबूती शुगर लॉबी के दबाव के चलते आखिरकार केंद्र सरकार को अपने एक सप्ताह पुराने फैसले से यू-टर्न लेना पड़ा। देश के चीनी उत्पादन...

संघर्ष

छुट्टा जानवर किसानों के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में 15 दिनों के भीतर आवारा जानवारों के...